आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र को कैबिनेट की मंजूरी Ayushman Bharat

भारत सरकार की हेल्थ स्कीम आयुष्मान भारत (Ayushman Bharat in Hindi) के तहत आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र के लिए कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है |

आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र ( Ayushman Bharat in Hindi )


केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 12000 आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र (आयुष HWC) खोलने के लिए मंजूरी दी है जिसमे 5 साल में ₹3399.35 करोड़ रूपये खर्च होंगे |

वित् वर्ष 2019-20 से 2023-24 के मध्य चलने वाली इस स्कीम ( Ayushman Bharat in Hindi) में सेंट्रल से शेयर के रूप में ₹ 2209.58 करोड़ और स्टेट शेयर में 8 1189.77 करोड़ का व्यय होगा |

यह कदम मौजूदा सार्वजनिक स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली के साथ एकीकरण द्वारा आयुष सिद्धांतों और प्रथाओं पर प्रतिबंधात्मक, प्रोत्साहन, उपचारात्मक, पुनर्वास और उपशामक स्वास्थ्य देखभाल पर आधारित एक समग्र कल्याण मॉडल स्थापित करने के उद्देश्य से है।

इससे जनता में बीमारी को कम करने और बीमार व्यक्ति के परिवार पर बोझ कम करने का सिद्धांत रखा गया है |

Ayushman Bharat Yojana in Hindi

Ayushman Bharat Yojana भारत सरकार की स्वास्थ्य योजना है जिसको प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने अप्रैल 1, 2018 को भीमराव अम्बेडकर की जयंती पर छतीसगढ़ से शुरुआत की थी |

आयुष्मान योजना का उद्देश्य: इस योजना के तहत ग़रीब परिवार को 5 लाख तक का स्वास्थ्य बीमा मुहैया कराना है, बीमा की राशी 5 लाख तक रखी गयी है |

इसके अंतर्गत लगभग 10 करोड़ लोगो को शामिल करने का लक्ष्य रखा गया था जिससे लगभग 40 करोड़ लोगो को फायदा होगा |

इस योजना से लाभार्थी देश में कही भी बिना पैसे दिए Cashless इलाज करा सकता है जिसमे प्राइवेट और सरकारी दोनों हॉस्पिटल शामिल है |

स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र में प्रदान की जाने वाली सेवाओं की सूची में शामिल हैं:

  • गर्भावस्था देखभाल और मातृ स्वास्थ्य सेवाएं
  • नवजात और शिशु स्वास्थ्य सेवाएं
  • बाल स्वास्थ्य
  • जीर्ण संक्रामक रोग
  • गैर संक्रामक रोग
  • मानसिक बीमारी का प्रबंधन
  • दांतों की देखभाल
  • बुजुर्ग के लिए आपातकालीन चिकित्सा

आयुष मंत्रालय

आयुष मंत्रालय का गठन 9 नवंबर 2014 को स्वास्थ्य देखभाल के लिए आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी में शिक्षा और अनुसंधान का विकास और प्रसार को सुनिश्चित करने के लिए किया गया था।

Ayush Govt Website

इससे पहले यह Department of Indian System of Medicine and Homeopathy (ISM&H) (ISM & H) विभाग के रूप में जाना जाता था, जिसे मार्च 1995 में बनाया गया था

फिर नवंबर 2003 में इसका नाम बदलकर Department of Ayurveda, Yoga and Naturopathy, Unani, Siddha and Homoeopathy (AYUSH) रखा गया।

अन्य:

CORONA Virus in Hindi

RAJENDRA SINGH

Digital Content Provider

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!