Connect with us

Govt SCHEMES

जन आधार कार्ड राजस्थान में लागू होगा भामाशाह की जगह – राजस्थान सरकार योजना

Published

on

Jan Aadhar Card Rajasthan राजस्थान जन आधार योजना 2020

राजस्थान जन आधार योजना: राज्य सरकार की विभिन्न योजना का लाभ आमजन तक पहुँचाने के लिए एक नंबर एक कार्ड एक पहचान से Rajasthan Jan Aadhar Card Yojana लागू की गई है

राजस्थान की गहलोत सरकार ने पुर्वती वंसुन्धरा भाजपा सरकार द्वारा चलाये गए भामाशाह कार्ड की जगह नया जन आधार कार्ड योजना लेकर आई है

राजस्थान जन आधार कार्ड योजना का उद्देश्य

जन आधार कार्ड में आपको भामाशाह कार्ड से मिल रही सभी सुविधा मिलती रहेगी

राज्य के निवासी परिवारों की जनसांख्यिकी और सामाजिक आर्थिक सूचनाओं का डेटाबेस तैयार कर आपको 10 अंकों वाला जन आधार कार्ड देना और परिवार व उसके सदस्यों की पहचान और एड्रेस के रूप में मान्यता देना है

किसी भी सरकारी योजनाओं से मिलने वाले पैसे को इस कार्ड के द्वारा स्थानांतरण करना

राज्य के नागरिकों को उनके घर के नजदीक ई-कॉमर्स और बीमा जैसी सुविधा प्रदान करना

ईमित्र की सेवाओं को मजबूत बनाना

महिला सशक्तिकरण एवं वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देना

सरकार द्वारा मिलने वाली योजनाओं के लिए परिवार के सदस्यों की पात्रता निर्धारण करना

अन्य सरकारी योजनाएँ

क्यों सरकार बदल रही है भामाशाह कार्ड से जन आधार कार्ड योजना

राजस्थान में 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में भी कांग्रेस पार्टी की तरफ से भामाशाह कार्ड के एवज में हो रहे पैसे के दुरुपयोग की बात उठाई गयी थी लेकिन 1 साल हुए इस चुनाव में कांग्रेस बड़ी पार्टी बनकर उभरी लेकिन भामाशाह कार्ड अभी तक चल रहा है |

और दूसरा कारण भामाशाह कार्ड की बनावट पर भी लगाया जाता रहा है, क्योंकि ये एक सरकारी योजना में आता है पूर्व भाजपा सरकार ने इसपर तत्कालीन मुख्यमंत्री श्री वसुंधरा राजे का फोटो लगाया गया है और लोगो के रूप में भी भारतीय जनता पार्टी का कमल इस्तेमाल किया गया है जिसको लेकर कांग्रेसी खेमे में नाराज़गी थी |

इसी पार्टी विशेष पर चुनाव के समय भामाशाह कार्ड पर चुनाव आयोग द्वारा रोक लगाई गयी जिससे विशेष पार्टी प्रचार न हो सके |

शायद यही सबसे बड़ी वजह कांग्रेस विधायको को लगता है जिससे वो इस कार्ड का नाम और स्वरूप बदलने पर उतारू है वरना युही जनता के पैसे से नाम बदला बदली ही खेलते रहेंगे या कोई नई योजना भी लायेंगे|

कब तक बनेगा जन आधार कार्ड राजस्थान में

इस साल गहलोत सरकार द्वारा जारी बजट में भी जन आधार कार्ड की बात कही गयी थी जिसको लेकर सरकार अभी पूर्णत प्रोसेस में आ गयी है और इसको लेकर सर्कुलर भी जारी किया जा चूका है |

Jan Aadhar Card Rajasthan Notice Copy

राजस्थान जन आधार योजना से मिलने वाली सुविधाए:

मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा राजस्थान जन आधार योजना में आपको निम्न तरह की सुविधा मिल सकेगी:

  • नए राशन कार्ड के लिए आवेदन
  • स्वास्थ्य सेवायें जैसे की पीएम जन आरोग्य “आयुष्मान भारत” योजना
  • छात्रवृत्ति योजना
  • देवनारायण छात्रा स्कूटी वितरण योजना
  • मेधावी छात्रा फ्री स्कूटी वितरण योजना
  • बेरोजगारी भत्ता योजना
  • मुख्यमंत्री युवा रोजगार योजना
  • जन-आधार पंजीयन
  • जन्म-मृत्यु पंजीयन
  • विवाह पंजीयन
  • आधार पंजीयन

राजस्थान जन आधार कार्ड योजना किस तरह अलग है भामाशाह कार्ड से:

ये क्यूआर कॉड बेस्ड टेक्नोलॉजी पर आधारित मॉडर्न कार्ड होगा जिसको स्कैन किया जा सकता है

कार्ड से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी अभी भी जारी नहीं की गयी है जब सरकार इससे लागू कर देगी तब इससे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी और डिटेल में आएगी |

और पढ़े:

SC ST ACT से जुडी जानकारी

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना

FASTag टोल से जुडी जानकारी

Continue Reading
2 Comments

2 Comments

  1. Pingback: Samajik Nyay Adhikarita Vibhag Rajasthan | RajHindi

  2. Pingback: EWS CERTIFICATE RAJASTHAN - कैसे बनाए | RajHindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Govt SCHEMES

कोरोना पर भारत सरकार की स्कीम #StayHome

Published

on

Coronavirus update India Raj Hindi

Coronavirus India Update:

Covid 19 se judi yojana Applications

Covid 19 Se Judi Yojana Application 2020

स्वास्थ्य कर्मियों (डॉक्टर/नर्सेज) पर हो रहे हमलो को ध्यान में रखकर Epidemic Disease Act 1897 (महामारी बीमारी कानून 2020) में बदलाव कर सख्त बनाया गया है |

Ayushman Bharat Yoajana से अब प्राइवेट हॉस्पिटल में भी इलाज हो सकेगा |

भारत सरकार ने किसानों के लिए कृषि रथ Krishi Rath app launch किया, इसका मकसद किसानों के अनाज को मंडी तक पहुंचने में मदद करना है

PM Modi ने कोरोना की लड़ाई में आर्थिक मदद के लिए PM-CARES Fund (Prime Minister’s Citizen Assistance and Relief in Emergency Situations) लॉन्च किया और देशवाशियों से अपना योगदान देने की अपील की |

स्वास्थ्य विभाग ने CoNTec (Covid-19 Telecommunication Centre) लॉन्च किया, इससे एम्स के डॉक्टर अन्य डॉक्टरो को 27×7 राय देंगे |

इंडियन आर्मी ने कोरोना से बचाव के लिए चलाया “ऑपरेशन नमस्ते”

भारत सरकार ने Facebook Messenger पर चैट बोट जारी किया है: m.me/MyGovIndia

Advise: lemon (निम्बू) और turmeric (हल्दी) से कोरोना वायरस ख़त्म नहीं होता है लेकिन इससे इम्यूनो सिस्टम ज़रुर मजबूत होता है |

Finance: RBI (रिज़र्व बैंक) ने रेपो रेट को 75 बेसिस पॉइंट से कम किया है (5.15% से 4.40%), और reverse repo rate को 90 बेसिस पॉइंट से कम किया है (4.65% से 5.65%), जिससे volatility में बढ़ोतरी होगी |

  • बैंक से 3 महीने तक लोन को पोस्टपोन करने को कहा है |
G20 Summit CoronaVirus India

लोगो को सुविधा, सरकारी स्कीम:

20.40 करोड़ जन धन खाता धारक महिला को अगले 3 महीने तक 500 रूपये/महीने मिलेंगे

उज्ज्वल योजना से लाभार्थी को अगले 3 महीने तक गैस सिलिंडर फ्री में दिए जायेंगे

Collateral-free loan doubled to 20 lakh rupees for 63 lakh women when SHGs which will impact 7 crore households.

PM Kisan Yojana के तहत किसान परिवार को 2000 रूपये की एडवांस installment दी जाएगी, जिससे 8.7 करोड़ किसान लाभार्थी होंगे |

स्वास्थ्य:

स्वास्थ्य विभाग में काम कर रहे सभी हेल्थ वर्कर को कोरोना बीमारी पर 50 लाख का insurance कवर दिया जायेगा , इससे 22 लाख लोग फायदेमंद होगें |

15000 रूपये महीने से कम कमाने वाले को अगले 3 महीने तक उसके PF अकाउंट में उसकी सैलरी का 24% प्रति महीने जमा किया जायेगा, जिससे 4 करोड़ EPF वालो को फायदा होगा |

कंस्ट्रक्शन और बिल्डिंग वर्कर को 3.5 करोड़ का वेलफेयर फण्ड दिया गया है |

प्रधानमंत्री गरीबी कल्याण के तहत 1.70 लाख करोड़ का फण्ड कोरोना वायरस बीमारी रोकथाम के लिए दिया गया है |

80 करोड़ लोगो को अगले 3 महीने तक 5 किलो गेहू/चावल और 1 किलो दाल हर महीने फ्री दी जाएगी

मनरेगा: मनरेगा में काम करने वालो का डेली देय 182 से बढाकर 202 रूपये किया गया है, इससे 13.62 करोड़ परिवार लाभार्थी होंगे |

3 करोड़ senior citizen और विधवाओं को 1000 रूपये दिए जायेंगे

Health-care Infrastructure Budget India (CoronaVirus)

भारत सरकार ने 15000 करोड़ रूपये से मेडिकल और हेल्थ केयर इन्फ्रास्ट्रक्चर को बढ़ने के लिए आवंटित किये है, आइसोलेशन Beds, ICU beds और कोरोना इक्विपमेंट के लिए |

PM मोदी ने कहा की अपने घर की लक्षमण रेखा के अन्दर रहे और safe रहे |

कोरोना वायरस के लिए व्हाट्सएप्प पर चैटबोट शुरू किया गया: wa.me/919013151515?text=Namaste

Finance Support:

वित् मंत्री निर्मला सितारमण ने कहा अगले 3 महीने तक किसी भी एटीएम से पैसे निकलने पर चार्ज नहीं लगेगा |

बैंक खाते में minimum balance रखने की भी जरूरत नहीं, डिजिटल लेनदेन पर सर्विस चार्ज भी घटाया |

30 जून तक 24×7 कस्टम क्लीयरेंस मिलेगा, और कस्टम एक्ट के तहत compliance की लिमिट 30 जून तक बढाई गई |

stayhome facility coronavirus

कोरोना वायरस पर भारत सरकार टोल फ्री नंबर: 1075

कोरोना वायरस सरकार की वेबसाइट: https://www.mygov.in/covid-19

corona loan relief fund gov India

कोरोना वायरस को लेकर 12 प्राइवेट लैब और 2 किट मैन्युफैक्चरर को अप्रूवल दिया गया (नोट: ये आंकड़ा आगे बढ़ सकता है )

24 मार्च से डोमेस्टिक फ्लाइट को बंद किया गया है, कार्गो फ्लाइट को इससे छुट है |

corona surgical supply gov India

प्रधानमंत्री मोदी ने अगले 21 दिन तक भारत लॉकडाउन की घोषणा की जो 14 अप्रैल तक लागू होगा |

भारत ने सार्क मीटिंग में कोरोना के लिए 10M USD दिए |

Continue Reading

Govt SCHEMES

आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र को कैबिनेट की मंजूरी Ayushman Bharat

Published

on

Ayushman Bharat in Hindi swasthy kendra

भारत सरकार की हेल्थ स्कीम आयुष्मान भारत (Ayushman Bharat in Hindi) के तहत आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र के लिए कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है |

आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र ( Ayushman Bharat in Hindi )


केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 12000 आयुष स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र (आयुष HWC) खोलने के लिए मंजूरी दी है जिसमे 5 साल में ₹3399.35 करोड़ रूपये खर्च होंगे |

वित् वर्ष 2019-20 से 2023-24 के मध्य चलने वाली इस स्कीम ( Ayushman Bharat in Hindi) में सेंट्रल से शेयर के रूप में ₹ 2209.58 करोड़ और स्टेट शेयर में 8 1189.77 करोड़ का व्यय होगा |

यह कदम मौजूदा सार्वजनिक स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली के साथ एकीकरण द्वारा आयुष सिद्धांतों और प्रथाओं पर प्रतिबंधात्मक, प्रोत्साहन, उपचारात्मक, पुनर्वास और उपशामक स्वास्थ्य देखभाल पर आधारित एक समग्र कल्याण मॉडल स्थापित करने के उद्देश्य से है।

इससे जनता में बीमारी को कम करने और बीमार व्यक्ति के परिवार पर बोझ कम करने का सिद्धांत रखा गया है |

Ayushman Bharat Yojana in Hindi

Ayushman Bharat Yojana भारत सरकार की स्वास्थ्य योजना है जिसको प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने अप्रैल 1, 2018 को भीमराव अम्बेडकर की जयंती पर छतीसगढ़ से शुरुआत की थी |

आयुष्मान योजना का उद्देश्य: इस योजना के तहत ग़रीब परिवार को 5 लाख तक का स्वास्थ्य बीमा मुहैया कराना है, बीमा की राशी 5 लाख तक रखी गयी है |

इसके अंतर्गत लगभग 10 करोड़ लोगो को शामिल करने का लक्ष्य रखा गया था जिससे लगभग 40 करोड़ लोगो को फायदा होगा |

इस योजना से लाभार्थी देश में कही भी बिना पैसे दिए Cashless इलाज करा सकता है जिसमे प्राइवेट और सरकारी दोनों हॉस्पिटल शामिल है |

स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र में प्रदान की जाने वाली सेवाओं की सूची में शामिल हैं:

  • गर्भावस्था देखभाल और मातृ स्वास्थ्य सेवाएं
  • नवजात और शिशु स्वास्थ्य सेवाएं
  • बाल स्वास्थ्य
  • जीर्ण संक्रामक रोग
  • गैर संक्रामक रोग
  • मानसिक बीमारी का प्रबंधन
  • दांतों की देखभाल
  • बुजुर्ग के लिए आपातकालीन चिकित्सा

आयुष मंत्रालय

आयुष मंत्रालय का गठन 9 नवंबर 2014 को स्वास्थ्य देखभाल के लिए आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी में शिक्षा और अनुसंधान का विकास और प्रसार को सुनिश्चित करने के लिए किया गया था।

Ayush Govt Website

इससे पहले यह Department of Indian System of Medicine and Homeopathy (ISM&H) (ISM & H) विभाग के रूप में जाना जाता था, जिसे मार्च 1995 में बनाया गया था

फिर नवंबर 2003 में इसका नाम बदलकर Department of Ayurveda, Yoga and Naturopathy, Unani, Siddha and Homoeopathy (AYUSH) रखा गया।

अन्य:

CORONA Virus in Hindi

Continue Reading

Govt SCHEMES

मरू विकास: Desert Development Programme in Rajasthan

Published

on

मरू विकास कार्यक्रम (Desert Development Programme in Rajasthan) का मुख्य उद्देश्य सूखे को कम करना और मरुस्थलीकरण को बढ़ने से रोकना है

मरू विकास कार्यक्रम (Desert Development Programme in Rajasthan)

मरू विकास कार्यक्रम की शुरुआत 1977-78 से की गई, इसके द्वारा राजस्थान में विभिन्न जिलों में डीडीपी (DESERT DEVELOPMENT PROGRAMME) लागू किए गए जिनमें बॉर्डर पढ़ने वाले राजस्थान के जैसलमेर बाड़मेर और बीकानेर जिले अहम है

1994-5 मई तक डीडीपी 131 ब्लॉक, 21 जिले और पांच राज्यों में शामिल था बाद में Hanumantha Rao कमेटी ने इसे 32 नए ब्लॉक और 64 ब्लॉक को डीपीएपी से डीडीपी स्थानांतरण करने का प्रस्ताव रखा

मरू विकास कार्यक्रम

शुष्क क्षेत्र में वाटरसैड बनाना

हरियाली प्रोग्राम के तहत वृक्षारोपण और पेड़ पौधों को बचाना

केंद्र सरकार की भागीदारी

इसमें केंद्र सरकार सूखे एरिया को पुनर्जीवित करने के लिए अपनी तरफ से योजना राशि देती है

Hot Arid Non Sandy Areas75%
Hot Arid Sandy Areas100%
Cold Arid Areas100%

केंद्र सरकार द्वारा दी जाने वाली राशि का प्रतिशत

Source: https://dolr.gov.in/desert-development-programme-ddp

Continue Reading
error: Content is protected !!