Govt SCHEMES

PACL पर्ल्स कंपनी से पैसे लेने के लिए फॉर्म कैसे भरे

हाल ही में सेबी ने ये सभी निवेशकों से PACL REFUND FORM ONLINE APPLY में उनकी डिटेल मांगी है ताकि PACL कंपनी द्वारा लिए गये पैसे को लोटाया जा सके |

PACL एक चिटफंड कंपनी है जिसने 2013 से पहले करीब 6 करोड लोगो का 49 हजार करोड़ रूपये का घपला कर दिया था |

निवेशकों को 20% तक रिटर्न और एजेंट को 10% – 12% तक भारी कमीशन देकर कंपनी ने राजस्थान पंजाब हरियाणा दिल्ली मध्यप्रदेश और निकटवर्ती प्रदेश के लोगो को बेवकूफ बनाकर पैसे हड़प लिए और 2013 में कंपनी ने पैसे वापस देने से मना कर दिया |

इसकी जाँच भारत की प्रमुख संस्था SEBI– The Securities and Exchange Board of India ने 2018 तक की और अब सेबी ने निवेशकों के पैसे लोटने के लिए आवेदन मांगे है |

ये आवेदन आप अपनी रकम का क्लेम करने के लिए सेबी की बनाई गयी वेबसाइट से कर सकते है |

PACL REFUND WEBSITE – https://sebipaclrefund.co.in

ये वेबसाइट सेबी द्वारा बनाई गयी है जिसमे PACL पर्ल्स के निवेशकों से उनकी जानकारी लेकर पैसे वापस दिए जा सके |

पर्ल्स रिफंड अपना फॉर्म कैसे भरे  HOW TO APPLY PACL REFUND FORM

अपना क्लेम करने के लिए SEBI PACL REFUND ONLINE WEBSITE पर जाकर आपको अपनी PACL नंबर से REGISTRATION करके ID बनानी होगी

PACL REFUND FORM ONLINE APPLY SEBI WEBSITE

अपना रजिस्ट्रेशन करने के लिए रजिस्ट्रेशन ऑप्शन पर क्लिक करे जेसा आप फोटो में देख रहे है

PACL REFUND FORM ONLINE REGISTRATION

इसके बाद आपके मोबाइल पर एक OTP आएगा जिसको लगाकर आप अपना पासवर्ड बना पायेंगे |

इसके बाद आपको अपने अकाउंट में लॉग इन करना होगा LOGIN यहाँ से कर सकते है https://sebipaclrefund.co.in/Account/Login

PACL REFUND FORM ONLINE PASSWORD LOGIN

लॉग इन करने के बाद आपकी सारी डिटेल भरनी होगी

इसमें आपके बाद आपको SUCCESSFUL CLAIMED का मेसेज दिखता है तो आपका काम पूरा हो गया है अब सेबी अपने आप आपके खाते को संभाल लेगी |

नोट: अपने कोई भी ओरिजिनल आगजत किसी एजेंट को न दे, क्योंकि इन ओरिजिनल डॉक्यूमेंट के आधार पर ही आपको पैसा मिलेगा |

अगर आपको ये जानकारी समझ नहीं आई है तो आप ये विडियो देख सकते है

धन्यवाद्

और ज्यादा जानकरी के लिए पढ़ते रहिए राज हिंदी वेबसाइट 

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close
Close