भारत जेंडर गैप में 112 स्थान पर, स्वास्थ्य+शिक्षा में भी हालत खराब: WEF रिपोर्ट

भारत जेंडर गैप में 112 स्थान पर, स्वास्थ्य+शिक्षा में भी हालत खराब: WEF रिपोर्ट

वर्ल्ड इकोनॉमिक फॉर्म ने जेंडर गैप को लेकर अपनी रिपोर्ट जारी कर दी है|

2019 साल में भारत जेंडर गैप में 112 वे स्थान पर आया है जो पिछले 2018 के मुकाबले 4 पॉइंट नीचे है पिछले साल भारत की रैंकिंग 108 वी थी |

भारत स्वास्थ्य में 150वें, आर्थिक भागीदारी और अवसर में 149वें और शिक्षा पाने के मामले में 112वें स्थान पर है

WEF जेंडर गैप रैंकिंग – टॉप कंट्री:

वर्ल्ड इकोनॉमिक फॉर्म की रिपोर्ट के मुताबित आइसलैंड सबसे कम जेंडर गैप में अभी टॉप पर है \

world gender gap top country
source: WEF

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की जेंडर गैप रिपोर्ट के मुताबिक चीन (106वें), श्रीलंका (102वें), नेपाल (101वें), ब्राजील (92वें), इंडोनेशिया (85वें) और बांग्लादेश (50वें) स्थान पर हैं। वहीं, पाकिस्तान 151वें, इराक 152वें और यमन 153वें स्थान पर है।

महिला राजनीति भागीदारी बढ़ी:

पिछले साल के मुकाबले महिलाओ की राजनीति में भागीदारी 24.1 से बढ़कर 25.2 हो गयी है |

पिछले साल ये अनुमान लगाया गया था की महिलाओ की राजनीति भागीदारी बराबरी पर आने में 107 साल लग जायेगे पर अभी ये अनुमान 95 साल लगाया गया है |

दुनिया में मंत्री पद पर भी महिलाओ की संख्या में पिछले मुकाबले बढ़ोतरी हुई है, 2018 के 19% से बढ़कर अब 21.2% हो गयी है

WEF women political power ranking hindi
source WEF

एशिया में 38 प्रतिशत महिलाए सेक्सुअल और फिजिकल प्रताड़ना झेलती है|

women sexual data world ranking and percent hindi

डब्ल्यूईएफ रिपोर्ट के मुताबित भारत में महिलाओं के लिए आर्थिक अवसर के मौके 35.4% तक सीमित हैं।

रिफरेन्स: https://www.weforum.org/agenda/2019/12/gender-gap-report-gender-parity-how-to-speed-up-progress/

और पढ़े:

स्टार स्क्रीन अवार्ड 2019 लिस्ट

लेटेस्ट न्यूज़

RAJENDRA SINGH

Digital Content Provider

This Post Has One Comment

Leave a Reply